Friday, May 24, 2019
HINDI NEWS PORTAL
Home > Samachar > चुनाव आयोग की छवि धूमिल हुई ।

चुनाव आयोग की छवि धूमिल हुई ।

चुनाव आयोग द्वारा पश्चिम बंगाल में प्रचार पर एक दिन पहले रोक लगाने पर राजद ने चुनाव आयोग और बीजेपी को आड़े हाथों लेते हुए जमकर हमला बोला है । राजद के राष्ट्रीय कार्यकारणी के सदस्य व विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन ने चुनाव आयोग के कदम को लोकतंत्र के लिए ‘काला धब्बा’ करार देते हुए दावा किया कि आयोग अपनी स्वतंत्रता खो चुका है तथा इस संवैधानिक संस्था के लिए नियुक्ति प्रक्रिया की समीक्षा होनी चाहिए ।

राजद के राष्ट्रीय नेता व विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन ने दावा किया कि भगवा दल पश्चिम बंगाल में सत्ताबल और बाहुबल के जरिए प्रजातंत्र का चीरहरण कर रहा है और राज्यों की सांस्कृतिक पहचान, संघीय ढांचे पर प्रहार कर रहा है। राजद के राष्ट्रीय नेता श्री शाहीन ने यह भी कहा कि समाज सुधारक ईश्वरचंद्र विद्यासगर की प्रतिमा खंडित किए जाने से साबित हो गया है कि बीजेपी क्षेत्रीय परंपरा और संस्कृति का सम्मान नहीं करती । उन्होंने कहा, ‘बीजेपी का रास्ता घृणा, बंटवारे, हिंसा और गाली-गलौज का है । वह प्रजातंत्र का अपहरण करने की साजिश कर रही है । बीजेपी द्वारा सत्ताबल और बाहुबल का गलत इस्तेमाल करने से लोकतंत्र पर गंभीर खतरा उत्पन्न हो गया है ।

उन्होंने कहा कि देश में निष्‍पक्ष चुनाव की प्रक्रिया खतरे में है । आयोग का फैसला कानूनी तौर पर गलत है। ऐसा लगता है कि निर्वाचन आयोग नरेंद्र मोदी के दरबार में डरा सहमा है । राजद के राष्ट्रीय नेता व विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन ने कहा कि ऐसा प्रतीत हो रहा है कि आदर्श आचार संहिता अब मोदी संहिता बन गई है जिसका इस्‍तेमाल विपक्ष की आवाज को दबाने में किया जा रहा है। यह लोकतंत्र के लिए शुभ नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *