Saturday, October 19, 2019
HINDI NEWS PORTAL
Home > Samachar > पटना में डॉ. बिस्मिल आरिफ़ी के काव्य संग्रह का विमोचन ।

पटना में डॉ. बिस्मिल आरिफ़ी के काव्य संग्रह का विमोचन ।

साहित्यिक संस्था ” दानिश मर्कज़ ” ने मशहूर शायर व पत्रकार डॉ.बिस्मिल आरिफ़ी के काव्य संग्रह ” मेरे तसव्वुर में रंग भर दो ” के विमोचन के लिए एक कार्यक्रम का फुलवारीशरीफ़,पटना में आयोजन किया , जिस की अध्यक्षता मशहूर कहानीकार मुशताक़ अहमद नूरी ने की , मुख्य अतिथि की हैसियत से उर्दू दैनिक समाचार पत्र इंक़लाब के संपादक अहमद जावेद शामिल हुए और कार्यक्रम का संचालन मशहूर संचालक असर फरीदी ने किया । दानिश मर्कज़ की ओर से डॉ. बिस्मिल आरिफ़ी को फूलों का हार पहनाकर और शाल पेश कर के स्वागत व सम्मानित किया गया ।

विमोचन के बाद काव्य संग्रह पर अपनी बात रखते हुए अहमद जावेद ने कहा कि डॉ. बिस्मिल आरिफ़ी शायर भी हैं और पत्रकार भी , आलोचक भी हैं और संपादक भी , उर्दू और हिंदी दोनों भाषाओं में लिखते हैं । मुझे खुशी है कि इनहोंने सभी क्षेत्र में अपनी पहचान का़यम कर ली है और दिल्ली की महफ़िलों खूब खूब नज़र आते हैं । मुझे इन की शायरी में मौजूदा दौर सांस लेता हुआ महसूस होता है । मुशताक़ अहमद नूरी ने कहा कि मैं बिस्मिल आरिफ़ी को 30 वर्षों से जानता हूँ और इन की शायरी और इन के लेख पढ़ता रहा हूँ ।

आज कल चार पांच वर्षों से शायरी करने वाले शायर भी काव्य संग्रह निकाल रहे हैं लेकिन बिस्मिल आरिफ़ी ने 30 /35 वर्ष शायरी करने के बाद अपना पहला काव्य संग्रह निकाला है तो यक़ीनन इस में कुछ खास होगा । इन की शायरी में आज के मसाइल को बड़ी खूबसूरती के साथ पेश किया गया है जब आप इन की ग़ज़लों और नज़्मों को पढ़ेंगे तो खुद महसूस करेंगे । नाशाद औरंगाबादी , ज़फ़र सिद्दीक़ी , असर फ़रीदी और परवेज़ अहमद ने भी काव्य संग्रह पर अपने अपने विचार रखे ।

इस अवसर पर एक मशायरे का भी आयोजन किया गया , जिस में मुशताक़ अहमद नूरी , नाशाद औरंगाबादी , क़ौस सिद्दीक़ी , बिस्मिल आरिफ़ी , ज़फ़र सिद्दीक़ी , अहमद जावेद , असग़र हुसैन कामिल , वारिस इस्लामपुरी , नसर आलम नसर , मीर सज़्जाद , काविश जमाली , वसीम अख्तर वसीम और आदिल अदीब ने अपनी शायरी पेश की ।

( रिपोर्ट : फ़ैज़ इलाही )