Home > Samachar > बिस्मिल आरिफ़ी के कविता संग्रह ” मेरे तसव्वुर में रंग भर दो ” का दिल्ली में भव्य विमोचन ।

बिस्मिल आरिफ़ी के कविता संग्रह ” मेरे तसव्वुर में रंग भर दो ” का दिल्ली में भव्य विमोचन ।

तामीर ए मिल्लत फ़ाउन्डेशन और तसमिया एजूकेशनल एंड सोशल वेलफ़ेयर सोसाइटी ने तसमिया आडिटोरियम , जामिया नगर , नई दिल्ली में एक भव्य साहित्यिक आयोजन किया , जिस में मशहूर शायर व पत्रकार डॉ.बिस्मिल आरिफ़ी के कविता संग्रह ” मेरे तसव्वुर में रंग भर दो  ” का विमोचन हुआ । इस प्रोग्राम की अध्यक्षता मशहूर समाज सेवी और साहित्य नवाज़ डॉ.सैय्यद फ़ारूक़ ने की और मुख्य अतिथि की हैसियत से

दिल्ली उर्दू अकादमी के वाइस चेयरमैन प्रो.शहपर रसूल और विशिष्ट अतिथि के रूप में मशहूर आलोचक और शायर प्रो. कौसर मज़हरी शामिल हुए , अन्य अतिथियों में मशहूर पत्रकार और वाईस आफ अमेरिका के दिल्ली संवाददाता सुहैल अंजुम और बीबीसी के पत्रकार डॉ. एम ए बीकी़ शामिल हुए ।  अध्यक्ष सहित सभी मेहमानों को डॉ. ज़मीर अहमद , हबीब सैफी़  , नोमान कै़सर , फ़य्याज़  अहमद , डॉ. खतीबुर्रहमान और आईन  अहमद ने गुलदस्ता पेश कर के स्वागत व सम्मान किया । साहित्यिक संस्था ” किंदील ” की ओर से मोईन कुरेशी और सिराज तालिब ने भी डॉ. बिस्मिल आरिफ़ी को शाल पेश कर के उनका सम्मान किया ।

अध्यक्ष और सभी अतिथियों ने डॉ. बिस्मिल आरिफ़ी को शाल , गुलदस्ता और माला पेश किया । इस के बाद किताब का विमोचन हुआ और प्रो.शहपर रसूल , प्रो. कौसर मज़हरी और  सुहैल अंजुम ने डॉ. बिस्मिल आरिफ़ी के व्यक्तित्व और उनकी शायरी पर अपने ख़यालात पेश किए । प्रोग्राम के इस सेशन का संचालन तामीर ए मिल्लत फ़ाउन्डेशन के अध्यक्ष मिर्ज़ा ज़की बेग ने बड़े अच्छे अंदाज़ से किया ।


प्रोग्राम के दूसरे सेशन में मुशायरा शुरू हुआ , जिस का संचालन सिराज तालिब ने किया । इस मुशायरे में प्रो. शहपर रसूल , राशिद जमाल फ़ारूक़ी , प्रो. कौसर मज़हरी , शबाना नज़ीर , शकील जमाली , डॉ. बिस्मिल आरिफ़ी , ज़फ़र अनवर , मोईन कुरेशी , हबीब सैफी़ , खान रिज़वान , सिराज तालिब ,

डॉ. एम ए बाक़ी , खालिद अख़लाक़ और  सलमान फै़सले  ने अपनी शायरी पेश की । इस प्रोग्राम की एक खास बात ये थी कि इस के श्रोताओं में भी  कई  पत्रकार , स्कूल टीचर , गेस्ट फ़िकल्टी  , और समाज सेवी मौजूद रहे जिन में तहसीन अहमद , डॉ. नौशाद मंज़र ,  शाहीन अहमद , वसीम अहमद , इम्तियाज़ अहमद , सफ़ी अख्तर , फैज़ अहमद , सैफ़ुल हक़ , नफ़ीस मिर्ज़ा  के नाम खास हैं ।

आखिर में प्रोग्राम के अध्यक्ष डॉ. सैयद फ़ारूक़ ने किताब के विमोचन और उसकी शायरी पर अपने ख़यालात रखे और डॉ. बिस्मिल आरिफ़ी को उनकी किताब के विमोचन पर मुबारकबाद  दी । इस के बाद प्रोग्राम के आयोजक मिर्ज़ा जकी बेग ने सभी मेहमानों , शायरों और श्रोताओं का शुक्रिया अदा किया ।