Tuesday, June 18, 2019
HINDI NEWS PORTAL
Home > Samachar > महान स्वतंत्रता सेनानी ” अब्बास तैयब जी : एक परिचय “

महान स्वतंत्रता सेनानी ” अब्बास तैयब जी : एक परिचय “

महान स्वतंत्रता सेनानी ” अब्बास तैयब जी : एक परिचय ” शीर्षक से ” तामीर ए मिल्लत ” ने तसमिया आडिटोरियम , जामिया नगर , दिल्ली में एक सेमिनार का आयोजन किया । इस सेमिनार की अध्यक्षता डॉ. सैय्यद मोहम्मद फारूक ने की व मुख्य अतिथि के रूप में एडवोकेट अनिल नॉरिया शामिल हुए और कार्यक्रम का संचालन मिर्ज़ा जकी बेग ने किया । प्रोग्राम के आरंभ में मिर्ज़ा अब्दुल बाकी ने महान स्वतंत्रता सेनानी अब्बास तैयब जी पर अपना लेख पेश किया जिस में उन्होंने विस्तार से उनके जीवन पर प्रकाश डाला । उन्होंने कहा कि तैयब जी का खानदान उस जमाने में भी शिक्षा को कितनी अहमियत से देखता था कि तैयब जी को पढ़ने के लिये लन्दन भेजा , जहाँ से वो बैरिसटर बन कर वापस आये ।

मुख्य अतिथि अनिल नॉरिया जी ने कहा कि तैयब जी को आज हम भूल गये हैं लेकिन हमें ये नहीं भुलना चाहिए कि गांधी जी उनका बड़ा सम्मान करते थे और जिनका सम्मान और आदर खुद गांधी जी ने किया हो वो कितना बड़ा इंसान रहा होगा । तैयब जी ने अपने घर के सभी विदेशी सामान जला दिये और बैल गाड़ी पर खादी के कपड़े बेचने लगे और उन्होंने अपनी कोठी जिस में वो रहते थे , उसे भी राष्ट्र को दे दिया जो आज भी उनके बलिदान की हमें कहानी सुनाती है , उन्होंने उस समय के एक नारे को भी बताया जो उस समय लोगों की ज़बान पर रहा करता था । ” खड़ा रुपैया चाँदी का — राज है तैयब गांधी का “

डॉ. सैयद मोहम्मद फारूक ने कहा कि महान स्वतंत्रता सेनानी अब्बास तैयब जी के बारे में आज दुनिया कम जानती है या फिर नहीं जानती है लेकिन जब आप उनके कारनामों के बारे में जानेंगे तो आप को गर्व होगा कि उनसे महात्मा गांधी मशविरा करते थे और गांधी जी के साथ मिलकर उन्होंने आजादी की लड़ाइ को एक दिशा दी थी । अंत में दिलदार देहलवी ने सभी लोगों का शुक्रिया अदा किया और एक अच्छे सेमिनार के आयोजन पर आयोजक को मुबारकबाद पेश की और उसके बाद मौलना याकुब की दुआ पर ये सेमिनार समाप्त हुआ ।

इस सेमिनार में दिल्ली की मशहूर शख्सियत ने शामिल हो कर इसे कामयाब बनाया । जिस में सुनीता हजारिका , डॉ. बिस्मिल आरिफी , सादात अनवर , मोइन कुरेशी , इमरान एजाज़ , हबीब सैफी , मुजममिल हुसैन , फैयाज़ बेग , मुज़फ़्फ़र गजाली , शकील रहमान , आइन सिद्दीकी , फ़ैज़ अहमद , जमीर अहमद , मोहम्मद शाहनवाज़ , बहजाद मंज़र , जावेद हसन के नाम प्रमुखता से लिये जा सकते हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *