Monday, August 19, 2019
HINDI NEWS PORTAL
Home > Samachar > मुज़फ़्फ़रपुर , बिहार के मशहूर शायर सबा नक़वी (1940 — 2019 ) नहीं रहे ।

मुज़फ़्फ़रपुर , बिहार के मशहूर शायर सबा नक़वी (1940 — 2019 ) नहीं रहे ।

बिहार में जो कुछ शायर वरिष्ठ होने के बावजूद अपनी सकरात्मक पहल से उर्दू शायरी के कारवां में जगमगा रहे थे और अपनी शायरी से अपनी मौजूदगी का एहसास करा रहे थे । उनमें से सबा नक़वी भी थे , जो अब नहीं रहे । आज 8 बजे शाम उन्होंने ने भी सामाने सफ़र बाँध लिया और अपने रब से जा मिले । सबा नक़वी से मुज़फ़्फ़रपुर और समस्तीपुर के कई मुशायरों में मिलने का अवसर मिला था । उन्होंने अपनी कई किताबें भी मुझे दी थीं , वो अपनी शायरी पर मुझ से लिखवाना चाहते थे और मैं ने लिखा भी , उनकी कुछ गज़लें मैं ने उर्दू पत्रिका ” मिल्ली इत्तेहाद  ” में प्रकाशित भी की थीं ।

सबा नक़वी की  ” जमाले फन ” निगारे फ़िक्र ” गुबारे आईना ” नज़ूले शेर ” आहंगे गज़ल सहित कई किताबें प्रकाशित हो कर लोगों से दाद हासिल कर चुकी हैं , उन्हें बिहार उर्दू एकेडमी सहित कई संस्थाओं से अवार्ड मिल चुके थे । सबा नक़वी मिलने जुलने वाले इंसान थे , मुझ से जब भी मिले बड़े ही तपाक से मिले । आज जब उनके बारे में ख़बर मिली तो बहुत सी पुरानी यादें ताजा हो गयीं । अल्लाह उनके दरजात बुलंद करे, आमीन

   ( असद रिजवी और बद्र मोहम्मदी की सूचना पर आधारित )