Sunday, September 22, 2019
HINDI NEWS PORTAL
Home > Samachar > मोदी की कुर्सी खिसकती देख , रामदेव के बदले सुर ।

मोदी की कुर्सी खिसकती देख , रामदेव के बदले सुर ।

रामदेव ने 2014 में कांग्रेस का ऐसा विरोध किया था कि उनकी बातें सुन कर राजनेता भी चकित थे कि बाबा रामदेव ये क्या कह रहे हैं । कांग्रेस पर इतना ज़ोरदार हमला तो वो भी नहीं कर रहे थे , जो आज मंत्री बने बैठे हैं । बाबा रामदेव ने कहा था कि मोदी प्रधान मंत्री होंगे तो ये होगा तो विदेशों से इतना कालाधन आये गा कि पूरा देश खुशहाल हो जायेगा , गैस सेलेंडर 300 रुपया में मिलेगा , पेट्रोल 40 रुपया लिटर हो जाये गा , डालर 50 रुपया होगा । कुछ अन्य बातें भी ऐसी कहीं थी जिन पर सोचता हूं तो हंसी आ जाती है ।

पांच राज्यों के चुनाव परिणाम के बाद बाबा रामदेव को लग रहा है कि अगले लोकसभा में भाजपा अच्छा पर्दर्शन नहीं कर पायेगी और मोदी दूसरी बार सत्ता हासिल नहीं कर पाएंगे तो उन्होंने अभी से ही अपने सुर बदल रहे हैं । रामदेव ने कहा कि वो किसी पार्टी का समर्थन या विरोध नहीं करते और उनका राजनीति से कोई लेना देना नहीं है और वो ये भी नहीं कह सकते कि अगली सरकार किस की बनेगी । उन्होंने कहा कि वो भारत में सुख शांति चाहते हैं और धार्मिक कट्टरपंथी का विरोध करते हैं ।

कहा जाता है कि बुरा समय आने पर साया भी साथ छोड़ देता है , रामदेव तो व्योपारी है । उसे तो व्योपार करना था , आगे जिसकी सरकार बनती नज़र आयेगी रामदेव उसी की गुंगान करते नज़र आयेंगे । उनको जैसे ही आभाष हुआ कि मोदी राज समाप्त होने वाला है , उन्होंने पैत्रा बदलना शुरू कर दिया है ।