Tuesday, June 18, 2019
HINDI NEWS PORTAL
Home > Samachar > राहुल गांधी के दो लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ने पर विवाद क्यों ।

राहुल गांधी के दो लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ने पर विवाद क्यों ।

भारत में दो जगह से चुनाव लड़ने की परंपरा बहुत पुरानी है  ,  सब से पहले अटल बिहारी वाजपेयी ने 1957 में दो जगह से चुनाव लड़कर इस परंपरा की नीव रखी और बाद में भी उस परंपरा को निभाते रसीटों एक बार तो वो उतरप्रदेश की तीन लोकसभा सीट से खड़े हो गए और केवल एक सीट पर जीत मिली । वाजपेयी की नक़ल करते हुए कई मशहूर नेताओं ने दो और तीन सीटों पर चुनाव लड़े और कभी जीते तो कभी हारे लेकिन ये परंपरा चलती रही । आडवाणी और मोदी भी दो सीटों से चुनाव लड़ चुके हैं , अब राहुल गांधी के दो सीट से चुनाव लड़ने पर बोलने वालों को अपने दामन में भी झांक लेना चाहिए ।

राहुल गांधी इस बार अमेठी के साथ केरल के वायनाड से भी लोक सभा चुनाव लड़ेंगे , वायनाड न सुरक्षित सीट है और न अमेठी में राहुल गांधी को कोई दिक़्क़त है । दक्षिण भारत में कांग्रेस का प्रभाव बढ़ाने की एक मात्र कोशिश है । जब किसी सीट से जनाधार वाली किसी पार्टी का अध्यक्ष चुनाव लड़ता है तो उस सीट की अहमियत बढ़ जाती है और संयोग से पार्टी अध्यक्ष अपनी पार्टी की ओर से प्रधनमंत्री का उम्मीदवार भी हो तो क्या कहना । भाजपा को किसी प्रकार का विवाद पैदा करने से पहले सोचना चाहिए कि पिछले चुनाव में खुद मोदी भी बनारस और बरोदरा से चुनाव लड़ चुके हैं । किसी पर हंसने से पहले आईना देखलेना चाहिए ।