Home > Samachar > बिहार में पुलिस शिकायत कर्ता को ही जेल भेज देती है ।

बिहार में पुलिस शिकायत कर्ता को ही जेल भेज देती है ।

दरभंगा 11अगस्त, विगत 7 अगस्त की शाम में बेगूसराय जिले में कार्यरत भाकपा माले पार्टी के युवा नेता जीशान अली को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया । जीशान अलीे उस दिन सुबह में अपने कुछ अन्य साथियों के साथ बजरंग दल के कार्यकर्ताओं द्वारा इस्लाम धर्म के खिलाफ सोशल मीडिया पर की गई अभद्र टिप्पणी की रिपोर्ट दर्ज कराने थाना पर गए थे । थाना प्रभारी उस वक्त उपस्थित नहीं थे , शाम में थाना प्रभारी ने कहा कि एफ आई आर दर्ज हो गई है , थाना आकर FIR की कॉपी ले जाएं ।

जब वे शाम में थाना पहुंचे तो थाना प्रभारी ने कहा कि उनके खिलाफ भी शिकायत आई है , थाना प्रभारी ने बहुत पहले के गोलवलकर और गोडसे से संबंधित एक फेसबुक झूठा पोस्ट के आरोप में उन्हें गिरफ्तार कर लिया । जाहिर सी बात है कि थाना पप्रभारी बजरंग दल के दवाब में यह काम किया लेकिन बजरंग दल के लोगों पर अब तक कोई एफआईआर दर्ज नहीं हुई है । नितीश जी आप सेकुलर होने का ढोगं करना बंद करे सोशल मीडिया पर RSS बजरंग दल के द्वारा एक जाति विशेष के खिलाफ लिखने पर आप कि पुलिस कारवाई क्यों नहीं करती है | फर्जी मुकदमे में जीशान अली को जो गिरफ्तार किया है , उसे जल्द रिहा किया जाए ।

नेयाज अहमद
इंसाफ मंच , राज्य उपाध्यक्ष