Sunday, January 26, 2020
HINDI NEWS PORTAL
Home > Samachar > बिहार में हाजीपुर और बछवारा के बीच रेल दुर्घटना ।

बिहार में हाजीपुर और बछवारा के बीच रेल दुर्घटना ।


राजद के राष्ट्रीय कार्यकारणी के सदस्य व विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन ने आज बछवारा -हाजीपुर रेलखंड के सहदेय बुजुर्ग रेलवे स्टेशन के पास सीमांचल एक्सप्रेस ट्रेन के दुर्घटनाग्रस्त होने को लेकर रेल मंत्री से इस्तीफे की मांग की है , साथ ही राजद नेता ने हादसे पर दुख व्यक्त किया है । राजद के राष्ट्रीय नेता श्री शाहीन ने कहा की जोगबनी से दिल्ली जा रही सीमांचल एक्सप्रेस के नौ डिब्बे पटरी से उतर गए l इस हादसे में सात लोगों की मौत हो गई जबकि करीब 24 यात्री घायल हो गए है।


श्री शाहीन  ने कहा, “अगर रेल मंत्री में जरा भी नैतिकता बची है, तो आज (रविवार ) हुई दुर्घटना के बाद उन्हें तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए । उन्होंने कहा की बिहार के में रविवार सुबह बड़ा रेल हादसा ने एक बार यात्रियों की सुरक्षा पर बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है। इस वर्ष अब तक का सबसे बड़ा रेल हादसा माना जा रहा है । राजद के प्रांतीय प्रवक्ता व विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन ने कहा की दो दिन पहले ही अंतरिम बजट आया है जिसमें रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा था कि यह वर्ष भारतीय रेलवे के इतिहास में अब का सबसे सुरक्षित रहा है l  पीयूष गोयल के इस बयान के बाद दो दिनों में दो रेल हादसे हो चुके हैं।


राजद के राष्ट्रीय नेता व विधायक श्री शाहीन ने कहा की 01 फरवरी  2019 को जयपुर के सांगानेर रेलवे स्टेशन पर दयोदय एक्सप्रेस इंजन सहित पटरी से उतर गई थी l यह हादसा सांगानेर स्टेशन के पास शिवदासपुरा में हुआ, हादसे के समय ट्रेन जबलपुर से अजमेर जा रही थी l  ट्रेन की गति धीमी होने के कारण ज्यादा नुकसान नहीं हुआ था l  हादसे में कुछ लोगों के घायल हुए थे l वही आज 03.02.19 को बिहार के सहदेई बुजुर्ग में बड़ा रेल हादसा (Seemanchal Express accident) हो गया जिसमें अब तक 07 लोगों की मौत हो चुकी है l हादसे की वजह रेल पटरी का टूटा होना बताया जा रहा है।



श्री शाहीन ने कहा की रेलवे सुरक्षा व संरक्षा के प्रति लापरवाह है l  पटरियों के रख -रखाव पर समुचित ध्यान नहीं देना भी रेल दुर्घटनाओं का प्रमुख कारण साबित हो रहा है l  सरकार को इस ओर अपेक्षित पहल करने की जरुरत है l उन्होंने कहा की रेल मंत्री पीयूष गोयल में यदि रत्ती भर भी नैतिकता बच गई है तो किसी का इंतजार किये बिना उन्हें अपने पद से त्यागपत्र दे देना चाहिए।